Jan २६, २०२१ १८:५३ Asia/Kolkata
  • अमरीकी सेनेट में ट्रम्प पर महाभियोग के लिए 9 फ़रवरी से शुरू हो जाएगा मुक़द्दमा, शिकंजे में फंसते जा रहे हैं पूर्व राष्ट्रपति

अमरीका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प पर शिकंजा कसता नज़र आ रहा है। सोमवार की शाम प्रतिनिधि सभा के 9 सदस्य सेनेट में गए और डोनल्ड ट्रम्प के ट्रायल की मांग पर आधारित दस्तावेज़ जमा कराए।

अमरीकी सेनेट ने पूर्व राष्ट्रपति पर महाभियोग चलाने के दस्तावेज़ जिसे आर्टिकल आफ़ इम्पीचमेंट कहा जाता है स्वीकार कर लिए और मुक़द्दमे के लिए 9 फ़रवरी की तारीख़ तय कर दी जिसके बाद ट्रम्प इकलौते अमरीकी राष्ट्रपति बन गए हैं जिन्हें दूसरी बार इस प्रकार के मुक़द्दमे का सामना करना पड़ रहा है।

महाभियोग के आर्टिकल में ट्रम्प पर आरोप लगाया गया है कि वह अमरीका के ख़िलाफ़ अशांति को हवा देकर गंभीर अपराध और भ्रष्टाचार में लिप्त हो गए हैं।

सीएनएन को इंटरव्यू देते हुए राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि वह जानते हैं कि इस ट्रायल की प्रतिक्रिया भी होगी लेकिन उनके विचार में इसे होना होगा क्योंकि अगर यह न किया गया तो इसके और भी बुरे परिणाम होंगे।

इस बीच ट्रम्प के कट्टर समर्थक सेनेटर लिन्ज़े ग्राहम ने कहा है कि संवैधानिक अधिकार क्षेत्र की कमी के कारण महाभियोग की कोशिश को ख़ारिज कर दिया जाना चाहिए।

ट्रम्प की ओर से अब तक इस सारी प्रक्रिया पर कोई बयान नहीं आया है और वह मुक़द्दमे के लिए अपनी क़ानूनी टीम तैयार करने में व्यस्त हैं।

सेनेट में महभियोग का दस्तावेज़ पहुंचाने वाले 9 सांसदों में से एक टेड लियो ने इस कार्यवाही को ऐतिहासिक बताया। इन 9 सांसदों को प्रतिनिधि सभा के प्रबंधक के रूप में जाना जाता है और वह सेनेट में ट्रायल की कार्यवाही के दौरान प्रतिनिधि सभा का प्रतिनिधित्व करते हैं।

सेनेट में उप राष्ट्रपति कमला हैरिस के चलते डेमोक्रेटिक पार्टी की स्थिति मज़बूत है लेकिन ट्रम्प को कोई सज़ा देने के लिए दो तिहाई बहुमत चाहिए अतः डेमोक्रेट्स को अपने इस मिशन में कामयाबी के लिए 17 रिपब्लिकन सेनेटरों के समर्थन की ज़रूरत पड़ेगी। अगर ट्रम्प को सज़ा हो गई तो फिर सामान्य बहुमत से उन्हें दोबारा कोई भी संवैधानिक पद पाने से रोका जा सकेगा।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स