Feb १५, २०२१ ०८:५९ Asia/Kolkata
  • म्यांमार में ऐसा क्या हो रहा है कि जिसने राष्ट्र संघ के महासचिव को गहरी चिंता में डाल दिया है? सेना से गुटेरेस की अपील

संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव ने म्यांमार की ताज़ा स्थिति पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए इस देश की ज़मीनी वास्तविक्ता को जानने के लिए राष्ट्र संघ के विशेष दूत की तुरंत तैनाती की मांग की है।

समाचार एजेंसी इर्ना की रिपोर्ट के मुताबिक़, संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफ़न दुजारिक ने रविवार को एक बयान जारी करके बताया कि, राष्ट्र संघ के महासचिव म्यांमार की ताज़ा स्थिति को लेकर गहरी चिंता में है। स्टीफन दुजारिक ने बताया कि एंटोनियों गुटेरेस, म्यांमार में सेना द्वारा इस देश के ज़्यादातर शहरों में सैन्य गाड़ियों के भेजे जाने और आम जनता के साथ बल प्रयोग किए जाने पर चिंतित हैं। बयान में कहा गया है कि, इस देश के सुरक्षा कर्मियों द्वारा निरंतर हिंसा, धमकी और उत्पीड़न की रिपोर्ट स्वीकार्य नहीं की जाएंगी। गुटेरेस ने म्यांमार की सेना और पुलिस से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि वह शांतिपूर्ण प्रदर्शनों के अधिकार का पूरी तरह से सम्मान करे और प्रदर्शनकारियों के ख़िलाफ़ हिंसात्मक कार्यवाही न की जाए।

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव के प्रवक्ता ने कहा कि, "राजनीतिक हस्तियों, सरकारी अधिकारियों, सिविल सोसाइटी के कार्यकर्ताओं और मीडिया कर्मियों की निरंतर गिरफ़्तारियां, साथ ही इंटरनेट और संचार सेवाओं पर प्रतिबंध, राष्ट्र संघ को चिंता में डाल रहे है।" दुजारिक ने कहा कि राष्ट्र संघ के महासचिव म्यांमार में लोकतंत्र की बहाली, शांति-सुरक्षा, मानवाधिकारों और क़ानून के शासन को आगे बढ़ाने में इस देश की जनता के निरंतर समर्थन पर ज़ोर देते हैं। गुटेरेस ने म्यांमार के सैन्य अधिकारियों से आह्वान किया है कि वे तत्काल तौर पर राष्ट्र संघ के विशेष दूत क्रिस्टीन श्रनर को म्यांमार का दौरा करने और वहां की स्थिति पर रिपोर्ट तैयार करने की अनुमति दें। ग़ौरतलब है कि म्यांमार की सेना ने अपनी तख़्तापलट की कार्यवाही को मज़बूती देने के उद्देश्य से इस देश के राष्ट्रीय टेलीविज़न सहित सभी तरह के सोशल मीडिया नेटवर्क पर प्रतिबंध लगा दिया है।

उल्लेखनीय है कि म्यांमार की सेना ने इस देश में हुए आम चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए 1 फरवरी को आंग सांग सूची के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ नेशनल डेमोक्रेटिक यूनियन पार्टी के ख़िलाफ़ तख़्तापलट कर दिया था। म्यांमार की सेना ने सत्तारूढ़ नेशनल डेमोक्रेटिक यूनियन पार्टी की नेता आंग सान सूची और इस देश के राष्ट्रपति वीन मींट सहित कई अन्य पार्टी नेताओं को उनके घरों में ही नज़रबंद कर दिया है। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स