Feb १८, २०२१ ०९:२० Asia/Kolkata
  • कोरोना वैक्सीन को लेकर हो रहे भेदभादव पर भड़का राष्ट्र संघ, तब तक कोई सुरक्षित नहीं जब तक एक भी असुरक्षित है

कोरोना वायरस का 75 फीसदी टीकाकरण केवल 10 देशों में हुआ है। इसे लेकर संयुक्त राष्ट्र संघ ने कड़ी नाराज़गी जताई है। राष्ट्र संघ के महासचिव ने कहा कि जल्द से जल्द हर देश को टीका मिलना चाहिए।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने हिंसक संघर्ष व असुरक्षा से ग्रस्त इलाक़ों में कोविड-19 वैक्सीन की न्यायसंगत सुलभता को लेकर बुधवार को सुरक्षा परिषद को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी, विश्व में भारी उथलपुथल का कारण बनी है, अर्थव्यवस्थाएं तबाह हुई हैं और टिकाऊ विकास लक्ष्यों की दिशा में जारी प्रयासों को झटका लगा है। गुटेरेस ने बताया कि, दुनिया भर में अब तक 10 करोड़ 90 लाख संक्रमणों की पुष्टि हो चुकी है और 24 लाख से ज़्यादा लोगों की मौत हुई है। कोरोनवायरस से बचाव के लिए अनेक देशों में टीकाकरण मुहिम को तेज़ी से आगे बढ़ाने के प्रयास चल रहे हैं। यूएन प्रमुख ने कहा कि कोरोना वायरस संकट पर पार पाने में यह प्रयास उम्मीद बांधाते हैं। लेकिन संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव ने कहा कि, तीन-चौथाई टीके, महज़ 10 देशों में ही दिए जा रहे हैं, जबकि 130 देशों में अब तक वैक्सीन की एक ख़ुराक भी नहीं दी जा सकी है। उन्होंने कहा कि मौजूदा आँकड़े, टीकाकरण के प्रयासों में न्यायसंगतता के अभाव और विषमता को दर्शाते हैं।

एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि हिंसक संघर्ष और असुरक्षा से प्रभावित का शिकार लोगों के पीछे छूट जाने का जोखिम सबसे ज़्यादा है जब महामारी दुनिया में फैल रही हो तो कोई भी तब तक सुरक्षित नहीं है जब तक हर कोई हर जगह सुरक्षित नहीं है। संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व वाली ‘कोवैक्स’मुहिम का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया को तत्काल एक वैश्विक वैक्सीन टीकाकरण योजना (Global Vaccination Plan) की आवश्यकता है जिसमें वैज्ञानिक विशेषज्ञता, उत्पादन और वित्तीय क्षमताओं वाले सभी पक्षकारों को साथ लाया जा सके। गुटेरेस ने भरोसा जताया कि जी-20 समूह इस सम्बन्ध में एक आपात टास्क फोर्स को गठित करने में अहम भूमिका निभा सकता है ताकि वैश्विक टीकाकरण योजना को तैयार करने, उसे लागू करने और उसके लिए वित्तीय प्रबंधन करना संभव हो सके। संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भरोसा दिलाया है कि इस दिशा में संयुक्त राष्ट्र प्रणाली पूर्ण रूप से संगठित प्रयासों के लिये तत्पर है। (RZ)

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स