Mar ०६, २०२१ ०१:४७ Asia/Kolkata
  • इस्लाम और आतंकवाद एक साथ जमा नहीं हो सकतेः पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान

इमरान ख़ान ने कहा कि इस्लामोफ़ोबिया से मुक़ाबले के लिए सबके सहयोग की ज़रूरत है

इस्लामाबाद से हमारे संवाददाता की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के प्रधानामंत्री इमरान ख़ान ने आर्थिक सहयोग संगठन इको (ECO) की वर्चुअल बैठक में कहा कि इस्लामोफ़ोबिया पश्चिमी देशों में एक व्यापक समस्या है और इससे मुक़ाबले के लिए अंतरराष्ट्रीय सहयोग की ज़रूरत है।

पाकिस्तान की सत्ताधारी “तहरीके इंसाफ़” पार्टी के प्रमुख और इस देश के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा कि इस्लाम और आतंकवाद एक साथ जमा नहीं हो सकते और मुसलमानों को अतिवाद से जोड़ना संकीर्ण सोच का परिणाम है।

गुरूवार को इको की जो वर्चुअल बैठक हुई उसमें 10 देशों के नेताओं ने भाग लिया। इस वर्चुअल बैठक में ईरान,पाकिस्तान,अफ़ग़ानिस्तान, तुर्की, आज़रबाईजान गणराज्य,तुर्कमनिस्तान,उज़्बेकिस्तान, क़िरक़िज़िस्तान, क़ज़्ज़ाकिस्तान और ताजिकिस्तान ने भाग लिया।

इसमें इको नेताओं की बैठक की अध्यक्षता पाकिस्तान से तुर्की को और मंत्री परिषद की अध्यक्षता तुर्की से तर्कमनिस्तान के हवाले कर दी गयी।  MM

टैग्स