Apr ०१, २०२१ २०:१८ Asia/Kolkata
  • म्यंमार में गृहयुद्ध छिड़ने के पूरे आसारः राष्ट्रसंघ

संयुक्‍त राष्‍ट्र ने म्यांमार में गृहयुद्ध छिड़ने की संभावना जताई है।

राष्ट्र संघ की विशेष दूत क्रिस्‍टीन स्‍क्रेनर बर्गेनर ने म्यांमार की स्थिति पर गहरी चिंता जताई है। इस बारे में चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा है कि सेना की कार्यवाहियों को देखते हुए म्‍यांमार में जबरदस्‍त गृह युद्ध छिड़ने की आशंका पाई जाती है।

एक वर्चुअल बैठक के दौरान क्रिस्‍टीन ने कहा कि सैन्‍य शासन द्वारा वहां पर लोगों को हिरासत में लिया जा रहा है और सेना के खिलाफ आवाज उठाने वालों की हत्‍याएं की जा रही हैं। उनका कहना है कि वे स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। राष्ट्रसंघ की दूत ने स्पष्ट किया है कि यदि इसको अभी नहीं रोका गया तो फिर पूरी दुनिया को इसको लंबे समय तक झेलना पड़ सकता है। उन्‍होंने म्‍यांमार की वर्तमान स्थिति को लेकर उसके पड़ोसी देशों को भी आगाह किया है।  क्रिस्‍टीन ने कहा है कि इस आशंका को देखते हुए साझा प्रयासों के अन्तर्गत उठाए जाने वाले सभी जरूरी कदम और मौजूद विकल्‍पों की तलाशा की जानी चाहिए।

राष्ट्रसंघ की विशेष दूत ने "म्‍यांमार असिस्टेंस एसोसिएशन फॉर पॉलिटिकल प्रिजनर्स" द्वारा दी गई जानकारियों को भी साझा किया जिसमें बताया गया है कि तख्‍तापलट के बाद से अबतक म्यांमार में 2729 लोगों को सुरक्षाबलों द्वारा हिरासत में लिया गया है, जबकि इस दौरान 536 लोगों की मौत हुई है। 

ज्ञात रहे कि म्यांमार में सेना द्वारा तख्‍तापलट के बाद से ही वहां पर सैन्‍य शासन के खिलाफ जबरदस्‍त विरोध प्रदर्शन जारी हैं जो रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं।  इन प्रदर्शनों में अबतक करीब 500 से अधिक लोगों की जान सेना और सुरक्षा बलों द्वारा की गई कार्रवाई में जा चुकी है। अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर इसकी कड़े स्‍वरों में निंदा की जा रही है।

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स