May १०, २०२१ ११:५७ Asia/Kolkata
  • अमेरिका के 17 राज्यों में आपातकाल लागू, अमेरिका की खुली क़लई

अमेरिका में तेल पाइप लाइन पर साइबर हमला होने के बाद इस देश के 17 राज्यों में आपात काल की घोषणा कर दी गयी है।

अमेरिकी अधिकारियों ने देश की सबसे बड़ी और महत्वपूर्ण ईंधन की सप्लाई करने वाली पाइप पर साइबर अटैक होने की प्रतिक्रिया में 17 राज्यों और कोलंबिया के क्षेत्र में आपात काल की घोषणा कर दी है। कोलोनियल पाइप लाइन पर साइबर हमला और ईंधन की सप्लाई के रुक जाने के बाद अमेरिकी अधिकारियों ने 17 राज्यों और कोलंबिया के क्षेत्र में आपात स्थिति की घोषणा कर दी।

साइबर हमले के बाद ऊर्जा की सुरक्षा में अमेरिका की बड़ी कमज़ोरी सामने आ गयी है। सूत्रों के अनुसार कोलोनियल पाइप लाइन के माध्यम से पूर्वी अमेरिका के तटवर्ती क्षेत्रों की लगभग 45 प्रतिशत ऊर्जा की आपूर्ति होती है।

अमेरिका के अलाबामा, आर्कन्सा, डेलावेयर,फ्लोरीडा, जॉर्जिया, कंण्टकी, लुईज़ियाना, मैरिलैंड, मिसिसिपी, न्यू जर्सी, न्यूयॉर्क, उत्तरी कैरोलीना, पेन्सिलवानिया, टेनेसी, टेक्सास और वर्जिनिया और कोलंबिया क्षेत्र में आपात काल की घोषणा की गयी है।

साइबर हमला अमेरिका में पेट्रोल सप्लाई करने वाली सबसे बड़ी पाइप लाइन में तेल की सप्लाई रुक जाने का कारण बना है और अटलांटा और वाशिंग्टन डीसी जैसे महत्वपूर्ण शहरों को गम्भीर चुनौती का सामना है।

कोलोनियल कंपनी ने एलान किया है कि ख़तरे को नियंत्रित करने के लिए पाइप लाइन से ईंधन की सप्लाई रोक दी गयी है। यह हमला शुक्रवार को हुआ था। इस हमले से ऊर्जा की सुरक्षा में अमेरिका की कलई खुल गयी है।

देर तक इस पाइप लाइन के बंद रहने से पेट्रोल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि होगी और वह भी गर्मी के मौसम में जब लोगों की यात्रा का मौसम है। अमेरिकी सरकार ने इस हमले के संबंध में जांच- पड़ताल आरंभ कर दी है और उसने अपनी आरंभिक जांच में कहा है कि हैकर संभवतः साइबर हमला करने में दक्ष हैं।

ब्लूमबर्ग टीवी चैनल ने भी रिपोर्ट दी है कि हैकरों ने हमला करने से एक दिन पहले यानी गुरूवार को ही इस पाइप लाइन से संबंधित बहुत सी जानकारियों की चोरी कर ली थी। MM

हमारा व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करने के लिए क्लिक कीजिए

हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन कीजिए

हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब कीजिए!

ट्वीटर  पर हमें फ़ालो कीजिए

टैग्स